top of page
  • Writer's pictureBB News Live

श्री सिद्धिविनायक के दरबार में पहुंचे एकनाथ शिंदे और देवेन्द्र फडणवीस



मुंबई। विज्ञान और उसके वैज्ञानिक भले ही आने वाले दिनों में चाँद पर मकान बना लें।फिर भी कुदरत के भेद को भेद पाना उनके लिये मुश्किल ही नहीं नामुमकिन भी है।चिकित्सक मरीज और उसके परिजनों को यह कहकर अपना पल्ला झाड़ लेता है कि हमने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर दिया है अब उपर वाला ही इसका मालिक है।


सत्ता और कुर्सी के लालच ने स्व बालासाहेब ठाकरे की खेती से उपजे एकनाथ शिंदे को शिवसेना से बगावत करने और पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस को उप मुख्यमंत्री बनने के लिए लाचार कर दिया।  


महाराष्ट्र राज्य की नई और ताजी सरकार के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उप मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने देश का सबसे चर्चित देवस्थान श्रीसिद्धिविनायक मंदिर में सुचारु रूप से सरकार चलाने के लिए  बाप्पा के चरणों में अपना मत्था टेक दिया।नेताद्वय ने बाप्पा की आरती की और मुख्य पुजारी के हाथों प्रसाद भी ग्रहण किया।इसके उपरांत उन्होंने भाजपा एमएलसी प्रसाद लाड द्वारा मंदिर परिसर में आयोजित गणेश यज्ञ का दर्शन लिया।


देवस्थान ट्रस्ट के अध्यक्ष आदेश बांदेकर और मुख्य न्यासी राजाराम देशमुख ने मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री को शाल श्रीफल और गुलदस्ता देकर उनका अभिनंदन किया।

Comments


bottom of page