top of page
  • Writer's pictureBB News Live

पांच राज्यों में ही नहीं बल्कि पूरे देश में अपनी सेवा प्रदान करेगा शिक्षा सेवा फाउंडेशन: CEO मनीकांत



मुंबई। उपनगर का सबसे चर्चित एक मात्र सामाजिक , शैक्षणिक व धार्मिक संस्था शिक्षा सेवा फाउंडेशन की 20 जुलाई दिन बुधवार को दसवीं वर्षगाँठ प्रबोधन ठाकरे हाल बोरीवली (पश्चिम) में कई विशिष्ठ अतिथियों की उपस्थिति में हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया।


इस मौके पर समारोह को संबोधित करते हुए संस्था के संस्थापक व सीईओ मनीकांत तिवारी ने कहा कि शिक्षा सेवा फाउंडेशन मुंबई, पालघर,रायगढ़ के जरूरतमंद बच्चों को शिक्षण सामाग्री व उनके फीस की ब्यवस्था कर उनके उज्ज्वल भविष्य को सजाने संवारने की दिशा में अनवरत अग्रसर है।और वर्तमान में हमारी संस्था भारत के महाराष्ट्र,गुजरात, गोवा, उत्तर प्रदेश व पश्चिम बंगाल के बच्चों के लिए सम्पूर्ण शिक्षा प्रदान करवाने के लिए युद्धस्तर पर सहयोगी भूमिका का निर्वहन कर रही है और आगे भी करती रहेगी। और हमारा उद्देश्य सर्वाधिक बच्चियों को स्कूलों से जोड़ना व उनको अव्वल दर्जे की शिक्षा दिलवाना ही लक्ष्य है।


शिक्षण समारोह को संबोधित करते हुए काँग्रेस पार्टी के उत्तर भारतीय प्रकोष्ठ मुंबई के कार्याअध्यक्ष अधिवक्ता अवनीश सिंह ने सीईओ तिवारी जी के सराहनीय कार्यो की बधाई देते हुए कहा कि आज पूरे मुंबई में शिक्षा सेवा फाउंडेशन द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में अव्वल दर्जे का कार्य किया जा रहा है। जिसकी चर्चा चारों दिशाओं में गूँज रही है। इस कार्यक्रम में 1692 बच्चो को पुरस्कृत किया गया और दहिसर के स्वामीविवेकानंद स्कूल के 498 बच्चियों स्कूली किट और उनके फीस की भी सुविधा प्रदान की गई। और बच्चों के मनमोहक नृत्य ने सभी को भावभिभोर कर दिया।उल्लेखनीय है कि अभी तक देश के पांचों राज्यों में पांच हजार से अधिक बच्चों की शिक्षा की नैतिकता की जिम्मेदारी शिक्षा सेवा फाउंडेशन वखूबी निभा रही है।


इस ऐतिहासिक मौके पर फाउंडर अर्तिका मैनेजमेंट के राजेन्द्र थोटे, स्वामीविवेकानंद हाईस्कूल की प्रधानाचार्या सुरेखा सूरे, एस आर क्विन्समीडिया प्राइवेट लिमिटेड पूजा परमेश्वर और एन एस डी एल के वरिष्ठ मैनेजर आशीष गुप्ता समेत बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे व फाउंडेशन के पदाधिकारियों व अन्य कई गणमान्य मौजूद थे। और सभी ने शिक्षा सेवा फाउंडेशन के कार्यो की बारी बारी से तारीफ की। अंत मे संस्थापक मनीकांत तिवारी जी ने सभी का दिल से आभार प्रकट किया।

Comments


bottom of page