top of page
  • Writer's pictureBB News Live

सुरक्षा को लेकर केंद्र सरकार जागरूक !! कई उपाय योजना को लागू करने के लिए कानून बनाए हैं

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने उत्तर मुंबई के सांसद गोपाल शेट्टी को लिखा पत्र

मुंबई। साइबर सुरक्षा एक ऐसा मुद्दा है जो देश के प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा करता है। आर्थिक, सामाजिक और मानसिक रूप से साइबर अपराध चिंता का विषय है। केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्री अमित शाहजी ने सांसद गोपाल शेट्टी को एक विस्तृत पत्र में लिखा है । इस विषय पर मौजूदा कानूनों और देश के नागरिकों के साथ उन कानूनों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए संवाद स्थापित किया है। इसके लिए भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र (आई4C) की स्थापना की गई है। महिलाओं और बच्चों के खिलाफ हो रहे साइबर अपराधों की रिपोर्ट करने के लिए केंद्र ने "राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल" लॉन्च किया है। नागरिक www. cybercrime.gov.in पर जा सकते हैं और सीधे साइबर अपराध की रिपोर्ट कर सकते हैं ऐसा केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने इस पत्र में कहा है। खास बात यह है कि इस पोर्टल पर एक बार अपराध का मामला दर्ज होने के बाद यह स्वत: ही संबंधित राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों यानी ऑनलाइन प्रक्रिया में चला जाता है। अब तक ७.६ करोड़ नागरिक साइबर पोर्टल पर जा चुके हैं और कुल ८.५ लाख साइबर अपराध दर्ज किए गए हैं और १६,५७३ प्राथमिकी (एफ आई आर) दर्ज की गई हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आर्थिक रूप से होने वाले साइबर अपराध के लिए 'नागरिक वित्तीय साइबर धोखाधड़ी ऑनलाइन रिपोर्टिंग प्रबंधन प्रणाली' (CFCFRMS) की स्थापना की है। इस प्रणाली में सभी राज्य/संघ राज्य सरकारें और सभी बैंक और मध्यस्थको शामिल किया गया है। इसके जरिए अब तक ५१ करोड़ रुपये आर्थिक अपराधियों से बचाया जा चुका है.

नागरिकों को साइबर अपराध से बचाने के लिए 1930 राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर हेल्पलाइन शुरू की गई है। नागरिकों को साइबर अपराध से बचाने के लिए इन सभी विषयों का क्रियान्वयन केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने किया है अतः सर्व नागरिक इसका उपयोग करें ऐसा सांसद गोपाल शेट्टी ने कहते हुए उत्तर मुंबई के नागरिकों को केंद्र सरकार के साइबर सुरक्षा पोर्टल का अधिक से अधिक उपयोग करने की अपील की है। धन संबंधी/वित्तीय लेन-देन धोखाधड़ी के शिकार न होते हुए गृह विभाग के सभी साइबर सुरक्षा पोर्टलों का उपयोग नागरिकों ने जागरूक होकर करना होगा ऐसा भी सांसद गोपाल शेट्टी ने कहा है। इसके लिए सांसद गोपाल शेट्टी ने छात्रों से अगुआई करने और जागरूकता पैदा करने की अपील की है. सांसद गोपाल शेट्टी ने कहा, "भाजपा युवा और महिला मोर्चा के साथ-साथ विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के माध्यम से, हम इस साइबर सुरक्षा को उत्तर मुंबई के प्रत्येक नागरिक तक पहुंचाने का कार्य सफलतापूर्वक करेंगे।


Comments


bottom of page