top of page
  • Writer's pictureBB News Live

रिक्शे में भूली महिला का 1 लाख 30 हजार के आभूषण तिलक नगर पुलिस ने लौटाया



मुंबई। घाटकोपर से रिक्शा पकड़कर तिलक नगर गई एक वर्षीय महिला का रिक्शे में भुला हुआ 1 लाख 30 हजार का आभूषण खोज कर तिलक नगर पुलिस ने पीड़ित महिला को वापस लौटाया है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार दिनांक 18 मई को अमिषा पटेल नामक महिला घाटकोपर से तिलकनगर के लिए रिक्शा पकड़कर गई थी।जहां उतरने के बाद अमीषा पटेल अपना एक बैग उक्त रिक्शे में भूल गई थी।जब उसे ख्याल आया की आभूषण वाला बैग वह रिक्शे में ही भूल गई है तब उसने फ़ौरन तिलक नगर पुलिस स्टेशन का रुख किया।मामले की गंभीरता को देख वरिष्ठ पुलिस निरिक्षक सुनील काले ने इस मामले की जांच की जिम्मेदारी यहां के डैशिंग पीएसआई शरद नानेकर व उनकी टीम को सौंप दी।श्री नानेकर,पुलिस नाइक संतोष बनकर,पुलिस कर्मी केशव सोनावणे,भारत नागरगोजे ने तत्काल इस मामले की जांच शुरू की।जिस स्थल पर पीड़िता ने रिक्शा छोड़ा था और जहां से रिक्शा पकड़ा था वहां के सभी सीसीटीवी के फुटेज खंगाला जिसमे एक रिक्शा नंबर पुलिस के हाथ लग गया।रिक्शा क्रमांक एम-एच-03-बी.वाई-4017 के मिलते ही पुलिस ने उक्त रिक्शा चालक को खोज निकाला है।श्री नानेकर व उनकी टीम के रिक्शा चालक से कड़ाई से पूछतांछ के बाद रिक्शा चालक ने उक्त बैग की जानकारी दी।उसके पुलिस ने वह बैग खोल कर देखा तो उसमे पीड़ित महिला के आभूषण जस के तस पड़े मिले।


उसके बाद पीड़ित अमीषा पटेल को पुलिस स्टेशन बुलाकर वरिष्ठ पुलिस निरिक्षक सुनील काले व पुलिस निरिक्षक सरिता चव्हाण की उपस्थिति में पुलिस निरिक्षक शरद नानेकर व उनकी टीम ने महिला का बैग उसे सौंप दिया।जिसमे 22 ग्राम सोने के आभूषण थे जिसकी कीमत 1 लाख 30 हजार रुपए बताए जाते हैं।पीड़ित महिला व उसके परिजनों ने तिलक नगर पुलिस के इस सराहनीय कार्य की जमकर सराहना किए हैं।

Comments


bottom of page