top of page
  • Writer's pictureBB News Live

हत्या का प्रयास करने वाला आरोपी दिल्ली में धराया

3200 किलोमीटर पीछा कर पकड़े वाले पुलिस अधिकारियों को किया सम्मानित

मुंबई। मानखुर्द पुलिस थाने की हद में एक युवक का दिनदहाड़े हत्या करने का प्रयास कर मुंबई से फरार हुए आरोपी को चार पुलिस

थानों की डिटेक्शन स्टॉफ की टीम ने 3200 किलोमीटर पीछा कर पकड़ने का बेहद ही सराहनीय काम किया है। जिनका मुंबई पुलिस के आला अधिकारी के हाथों नगद व प्रशस्तीपत्र देकर सम्मान किया गया है।


इन धाराओं में मामला दर्ज


गौरतलब है की मानखुर्द पुलिस की हद में गत दिनों दिनृदहाड़े एक युवक की हत्या करने का प्रयास किया गया था। इस मामले में मानखुर्द पुलिस ने अपराध क्रमांक 40/2024 भादवी 307, 504, 506 (2), 34 सह कलम 4, 25 व 37 (1) व 135 के तहत मामला दर्ज किया था। इस मामले चार आरोपियों का नाम समावेश था। जिनका नाम अशफाक खान उर्फ़ बब्बू,राशिद जग्गा, इस्माइल शेख व फैजल सिद्दीकी उर्फ फैजल नागोरी बताया जाता है।





तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजा

सूत्र बताते हैं कि इसमें अशफाक खान मुंबई का मोस्ट वांटेड गुटका माफिया है। पुलिस ने इस मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे डाला था लेकिन फैजल सिद्दीकी उर्फ फैजल नागोरी मुंबई से फरार हो गया था। जिसकी तलाश के लिए अतिरिक्त पुलिस आयुक्त व पुलिस उपायुक्त के आदेश पर एक विशेष टीम का गठन किया गया था। जिसमें ट्रांबे पुलिस स्टेशन के डिटेक्शन अधिकारी शरद बाजीराव नानेकर व अभय शांताराम काकड़, तिलक नगर पुलिस स्टेशन के डिटेक्शन अधिकारी अजय जगन्नाथ गोल्हार व विजय सिंह विष्णु देशमुख, शिवाजी नगर पुलिस स्टेशन के ऋषिकेश कृष्णराव बाबर व चेंबूर के पुलिस कर्मचारी दशरथ शिवाजी राणे, ट्रांबे के प्रमोद गजानन लेंभे व प्रदीप निवृत्ति देशमुख का समावेश था।


सिद्दीकी दिल्ली से गिरफ्तार

पुलिस सूत्र बताते है कि पुलिस की उपरोक्त टीम ने आरोपी फैजल सिद्दीकी उर्फ फैजल नागोरी को गिरफ्तार करने के लिए तांत्रिक जांच पड़ताल मानवी जांच पड़ताल शुरू किया तो पुलिस को सुचना मिली की वह मुंबई से महाराष्ट्र के अलग अलग ठिकानों पर रुकते हुए गुजरात और गुजरात से राजस्थान फिर वहां से हरियाणा फिर दिल्ली में जाकर रह रहा है। पुलिस की उपरोक्त टीम ने लगातार 13 दिन तक अलग अलग राज्यों से होते हुए करीब 3200 किलोमीटर का पीछा कर आरोपी फैजल सिद्दीकी को दिल्ली से गिरफ्तार किया था।


 नगद राशि

 पुलिस के इस सराहनीय काम को देख मुंबई पुलिस आयुक्त के निर्देश पर सह पुलिस आयुक्त मुंबई श्री सत्यनारायण ने उपरोक्त पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रत्येकी 8000- 8000 हजार रुपए नगद राशि व पुलिस प्रशस्तीपत्र देकर सम्मानित किया है। ईस्ट रीजन जोन 6 के अधीन के इन अधिकारियों व कर्मचारियों के उपरोक्त उत्तम कामगिरी को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस आयुक्त महेश पाटिल व पुलिस उपायुक्त हेमराजसिंह राजपूत ने प्रशंसा करते हुए ख़ुशी जाहिर की है।

Comentarios


bottom of page