top of page
  • Writer's pictureBB News Live

पर्यावरण संरक्षण के साथ-साथ विकास कार्य भी जरूरी : गोपाल शेट्टी



मुंबई :गोरेगांव पूर्व में मेट्रो कार शेड को फिर से खोलने के राज्य सरकार के फैसले के समर्थन में, सां.गोपाल शेट्टी ने सभी पर्यावरणविदों से इस महत्वाकांक्षी और विकास-संचालित परियोजना का विरोध बंद करने की अपील की है। यह प्रकल्प महाराष्ट्र के हित में होने के कारण और लगभग २५% काम पूर्ण होने के संदर्भ में "यदि यह परियोजना कहीं और शुरू की जाती है, तो  अत्यधिक वित्तीय नुकसान के साथ ही परियोजना में विलंब होने की संभावना है। 

सां.गोपाल शेट्टी ने कहा की "मुंबई में हो रहे विकास कार्यों के  तहत कभी कभार वृक्ष काटने पड़ जाते है परन्तु विकास भी जरूरी है और विकास के साथ पर्यावरण संरक्षण भी उतना ही महत्वपूर्ण है।

 रविवार ३ की सुबह ११.३० बजे गोरेगांव पूर्व के मेट्रो कार शेड के स्थान का निरीक्षण करते हुए सां.गोपाल शेट्टी ने यह भी कहा कि हमने उपनगरों में हजारों पेड़ लगाए हैं।"

बता दें कि  की सां.गोपाल शेट्टी ने गत दो वर्षों में नागरिकों को अपने अपने जन्मदिन पर वृक्षरोपण की अनूठी योजना भी दी थी। इससे प्रेरित होकर सैंकड़ों नागरिकों ने अपने अथवा अपने बच्चों के जन्मदिन पर वृक्षारोपण के कार्यक्रम किए थे। संपूर्ण उत्तर मुंबई में ५००० वृक्षों का संवर्धन करने के कार्य का बीड़ा सां.शेट्टी ने उठाया था प्रत्यक्ष में अपने इस नेता के संकल्प को पूरा करते हुए नागरिकों/संस्थाओं द्वारा वृक्षारोपण की वह संख्या उससे आगे निकल गई थी। इस अवसर पर यही उदाहरण  देते हुए सांसद गोपाल शेट्टी ने कहा है की, "जहाँ एक पेड़ काटा गया है वहाँ उसके ऐवज में कई सारे नये पेड़ लगा कर हम पर्यावरण संरक्षण को सुनिश्चित कर सकते है l

देश के विकास में निर्माण कार्यों का अहम योगदान है तो जहाँ अतिआवश्यक होगा वहाँ निर्माण भी जरूरी है अतः हमें इस का स्वागत करना चाहिए परन्तु साथ के साथ ये भी सुनिश्चित हो के पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए जितने भी पेड़ पौधे कटे है उससे ज्यादा पेड़ पौधे लगाये जायें, जिससे की देश और प्रदेश के विकास का मार्ग प्रशस्त हो l

Commentaires


bottom of page