top of page
  • Writer's pictureBB News Live

मार्केट विभाग की डॉ.शिवानी गायकवाड़ का आतंक !

देवनार केना मार्केट के व्यापारियों में फैला आक्रोश

मुंबई। चार पांच दशक से अपना ब्यवसाय कर अपने परिवारो का पालन पोषण करने वाले देवनार केना मार्केट के लोगो पर बुधवार 31 जनवरी को मुंबई मार्केट विभाग के उड़नदस्ते की अधिकारी डॉ.शिवानी गायकवाड़ ने अपना कहर बरपाया है।जिसके चलते करीब 50 व्यापारियों का जीना हराम हुआ है जिससे उनमे गहरा आक्रोश फ़ैल गया है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार देवनार स्थित केना मार्केट में 40-50 वर्षो से 50 के करीब लोग देवनार कत्लखाने से पावती भरकर बकरे का पाया लाकर उसकी साफ़ सफाई करके बेचने का काम करते है।उन व्यापारियों की दुकानों को तहस नहस करके उनके करीब 50 लाख रुपए के सामान को जब्त करने दुःसास डॉ.शिवानी गायकवाड़ ने किया है।जिसमे 13 दुकानों में जबरन घुस कर तोड़ फोड़ की,3 दुकानों का ताला तोड़ने का काम व 8 बेस कीमती फ्रिज जब्त करने के साथ साथ करीब 50 लाख के पाया को जब्त करने का काम गायकवाड़ ने किया है। इसके अलावा 6 लोगो को अपने कब्जे में लेकर पुलिस स्टेशन गई और तीन लोगो पर 2500-2500 का चार्ज भरवाने का काम भी उन्होंने किया है।


गफूर, इसरार व अकरम ने बताया की मैडम ने हमारे दुकानों के ताले तोड़ कर दूकान में रखे हुए सारे सामान को जब्त की है।जब की हम सभी व्यापारियों के पास गुमास्ता लायसेंस,देवनार से खरीदे गए बकरे के पाए की पावती व अन्य जरुरी कागजात है।जिसे वह देखने को भी तैयार नहीं हुई है।स्थानीय पुलिस ने स्पेशल एलएसी क्रमांक 205/2024,206/2024 व 207/2024 के तहत मामला दर्ज कर 2500-2500 का चार्ज मारा है। व्यापारियों का यह भी कहना है गायकवाड़ ने हम व्यापारियों का कुछ भी सूना नहीं सबके दुकानों में जबरन घुस घुस कर सामानों को जब्त किया है।बताया जाता है की वह अपने उच्च अधिकारियो को खुश करने के लिए ही इस तरह से कार्यवाई करके लोगो के व्यापार को तहस नहस करने का काम गायकवाड़ ने किया है जो पूरी तरह अन्याय कारक है।जिसकी सभी निंदा कर रहे हैं। इस सन्दर्भ में जब गायकवाड़ से फोन पर बात की गई तो उन्होंने कहा मैं मीटिंग में हूँ बाद में फोन करती हूँ लेकिन ना ही दोबारा उनका फोन आया ना ही कोई रिप्लाई मिली है।

Kommentare


bottom of page