top of page
  • Writer's pictureBB News Live

महारेरा के पांच साल : 9208 परियोजनाएं हुई पूरी

11972 मामलों का हुआ निबटारा 


मुंबई । महाराष्ट्र रियल इस्टेट रेगुलेटरी ऐक्ट (महरेरा ) के पांच वर्ष आज रविवार को पूरे हुए हैं।  इन पांच वर्षों में महरेरा ने न सिर्फ घर खरीददारों के साथ न्याय किया है बल्कि बिल्डरों को भी रेगुलेट करते हुए उनसे 9208 परियोजनाएं पूरी करवाई हैं और ग्राहकों को उनके सपनों का घर दिलवाया है. इतना ही नहीं बीते पांच सालों में महरेरा ने 11000 से अधिक शिकायतों के निबटारा किया है। 


बता दें कि मई 01,2017 में राज्य में रियल एस्टेट को रेगुलेट करने और इसमें व्याप्त भ्रष्टाचार के मामलों को कम करने के लिए महरेरा को लागू किया गया था। शुरुआत में में बिल्डरों ने परियोजना के पंजीकरण में आनकानी की किन्तु अनिवार्य होने की वजह से देरी से ही सही बिल्डरों ने अपनी परियोजनाऐं महरेरा के अंतर्गत पंजीकृत करवाई। महरेरा से मिली जानकारी के अनुसार 30 अप्रैल 2022 तक महरेरा के अंतर्गत कुल 35456 परियोजनाओं का पंजीकरण किया गया है। इनमें से 9208 परियोजनाएं खबर लिखे जाने तक पूरी की जा चुकी हैं।


जबकि 25527 परियोजनाओं पर अब भी काम जारी है। महरेरा ने पांच साल के कार्यकाल में कई ऐसे निर्णय किए हैं जिससे घर खरीदने वालों के सालों से अटके पैसे वापस मिल गए वह भी भरपाई के साथ, कई परियोजनाएँ जो सालों से प्रलंबित पड़ी थी उनमें नए बिल्डर को नियुक्त किया गया और काम दुबारा शुरू किया गया। कई मामलों में तो संपत्ति जब्त कर घर खरीददारों को उनके पैसे वापस किए गए हैं।  


17712 शिकायतें हुईं दर्ज 

पिछले पांच सालों में महरेरा के अंतर्गत घर खरीददारों ने कुल 17712 शिकायतें दर्ज की। इनमें से 11972 शिकायतों में ग्राहक को न्याय दिया गया है। अन्य मामलों में सुनवाई जारी है। महरेरा अधिकारी ने बताया किअथॉरिटी ने न सिर्फ ग्राहकों के साथ न्याय किया है बल्कि बिल्डरों के लिए भी एक ऐसा बाजार तैयार किया है कि ग्राहक के साथ रिश्तो में सुधार आ सके। अब लोगों को यह लगता है कि उनके पैसे सुरक्षित हैं। इससे पहले यदि किसी परियोजना में ग्राहक का पैसा फंसा तो उसे अपनी मेहनत की कमाई से हाथ धोना पड़ता था। लेकिन अब ऐसा नहीं है अब ग्राहक घर बैठे ही अपने फंसे हुए पैसे वापस पा सकता है महरेरा के अंतर्गत शिकायत दर्ज करा कर।


महारेरा के 5 साल के कार्यकाल के लिए मैं उनकी टीम को शुभकानाएं देता हूँ।  महरेरा की वजह से बाजार में कई चीजों पर अंकुश लगा है और बिल्डर और ग्राहक के बीच में तनाव पूर्ण  माहौल में कमी आई है जो कि व्यापार के लिए सबसे सही बात है। महरेरा इस तरह से ग्राहकों और बिल्डरों के बीच विश्वाश की कड़ी बना रही यही मेरी शुभकामना है।

-हरीश जैन,वॉइस प्रेसिडेंट, बृहन्नमुंबई डेवेलपर्स एसोसिएशन (बीडीए)



महारेरा ने बाजार में ग्राहकों को यह भरोसा दिलाया है कि उनके सपनों का घर सुरक्षित है और उनके पैसे कहीं डूबेंगे नहीं । इसके अलावा अच्छे बिल्डरों के लिए राहत की बात यह रही उनके काम की सारी जानकारी एक क्लिक पर ग्राहक को मिल जाती है और उससे ग्राहक को यह पता चल जाता है कि किस परियोजना में पैसे लगाने हैं और किसमें नहीं।
-योगेश बोसमिया ,एम डी, रशिम हाउसिंग 


コメント


bottom of page