top of page
  • Writer's pictureBB News Live

महाराष्ट्र में लोगों को चूना लगाने वालों की भारमार

हाई रिटर्न के नाम पर महिला से ठगी

नौकरी का लालच देकर दर्जनों लोगों को लूटा

एडमिशन दिलाने के नाम पर की लाखों की धोखाधड़ी




नवी मुंबई। नवी मुंबई में निवेश के नाम पर तीन करोड़ रुपए की ठगी करने के मामले में पुलिस ने 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने नवी मुंबई में 42 साल की एक महिला और अन्य लोगों को अलग-अलग निवेश योजनाओं में हाई रिटर्न का वादा करने के बाद 2.97 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में केस दर्ज किया है। सानपाड़ा पुलिस स्टेशन के अधिकारी ने कहा कि आरोपियों ने पिछले तीन सालों में महिला और अन्य पीड़ितों के धन को शेयरों में निवेश किया और चल और अचल संपत्ति भी बना ली। उन्होंने कहा, लेकिन आरोपी पीड़ितों को कोई लाभ दिलाने या निवेशित धन वापस करने में विफल रहे। नवी मुंबई टाउनशिप के सीवुड्स इलाके की रहने वाली महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। इसके आधार पर, पुलिस ने आईपीसी की धारा प्राइज चिट्स एंड मनी सर्कुलेशन स्कीम्स (बैनिंग) एक्ट, अनरेगुलेटेड डिपॉजिट स्कीम्स बैनिंग एक्ट और महाराष्ट्र प्रोटेक्शन ऑफ इंटरेस्ट ऑफ डिपॉजिटर्स (इन) के प्रावधानों के तहत नौ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है जिसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

दुबई-मलेशिया में नौकरी का लालच देकर दर्जनों लोगों को ठगा

ठाणे में विदेशों में नौकरी का लालच देकर दर्जनों लोगों से ठगी हो गई। पुलिस ने बताया कि ठाणे के भिवंडी में एक ही परिवार के चार लोगों के खिलाफ दुबई-मलेशिया में नौकरी देने के बहाने कई लोगों से 8.3 लाख रुपए की धोखाधड़ी के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, ये एफआईआर एक दर्जी ने रजिस्टर कराई है, जिसके बाद धोखाधड़ी और जालसाजी के लिए आईपीसी की अलग-अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। हालांकि इस मामले में अबतक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। एफआईआर के अनुसार, आरोपियों ने पीड़ितों को सितंबर और नवंबर 2022 के बीच मलेशिया और दुबई में नौकरी दिलाने का वादा किया था। अधिकारी ने कहा, उन्होंने पीड़ितों से वीजा, पासपोर्ट और हवाई टिकटों की व्यवस्था करने के लिए शुल्क के रूप में पैसे एकत्र किए। पुलिस अधिकारी ने बताया, उन्होंने नकली हवाई टिकट उपलब्ध कराए, जिसके कारण पीड़ित मुंबई और कोलकाता हवाई अड्डों पर फंस गए। जब उन्हें महसूस हुआ कि उनके साथ धोखा हुआ है, लेकिन उनकी मांग को नजरअंदाज कर दिया गया। अधिकारी ने बताया कि आगे की जांच जारी है।

बंटी बबली ने महिला शिक्षका को लगाया 23 लाख का चूना

मुंबई के नामचीन मेडिकल कॉलेज में प्रवेश दिलाने का झांसा देकर एक शिक्षका से दो लोगों ने मिलकर 23 लाख रुपए की ठगी करने का मामला प्रकाश में आया है। नारपोली पुलिस ने ठगी के शिकार हुए महिला शिक्षका की शिकायत पर दो लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। जिसके बाद से दोनों बंटी-बबली फरार हो गए है। जिनकी तलाश पुलिस सरगर्मी से कर रही है। पुलिस के मुताबिक भिवंडी के सौदागर मोहल्ले में रहने वाली शिक्षका अफरोज अनवर कुरेशी की पुत्री मुंबई के विद्याविहार में स्थित सोमय्या कॉलेज में मेडिकल में प्रवेश लेना चाहती थी। लेकिन लाख कोशिश के बावजूद उसे कॉलेज में प्रवेश नहीं मिल रहा था। इस बीच उनकी पहचान प्रेरणा बनवारीलाल शर्मा ( 22) ओसवालवाड़ी और कबीर सरकार नामक व्यक्ति से हुई। दोनों उसकी लड़की को प्रबंधन कोटे से एमबीबीएस कॉलेज में प्रवेश दिलाने का झांसा दिया और एडमिशन के नाम पर दोनों ने 30 अगस्त 2021 से 10 नवंबर 2022 के बीच कुल 33 लाख रुपए ले लिए। लेकिन मेडिकल कॉलेज में प्रवेश नहीं दिला पाए। इसके बाद जब महिला ने अपना पैसे वापस मांगा तो दोनों मे 10 लाख रुपया वापस कर दिया। जबकि बकाया 23 लाख मांगने पर दोनों फरार हो गए। महिला ने नारपोली पुलिस स्टेशन में बंटी बबली प्रेरणा बनवारीलाल शर्मा और कबीर सरकार के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया। जिसकी जांच महिला पुलिस उप-निरीक्षक सोनाली पाटिल कर रही है।

मेडिकल कॉलेज में प्रवेश दिलाने के नाम पर लाखों रुपए कि धोखाधड़ी

मेडिकल कॉलेज में प्रवेश दिलाने के नाम पर माणिकपुर पुलिस स्टेशन ने एक 40 वर्षीय शख्स के ऊपर केस दर्ज कर आगे की विवेचना कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार, भिभराव कांबले (56),निवासी- बाभोला नाका,वसई पश्चिम में रहता है। आरोपी ने शिकायतकर्ता (कांबले ) की बेटी को पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए एक मेडिकल कॉलेज में प्रवेश दिलाने के नाम पर शिकायतकर्ता से नकद व ऑनलाइन पद्धति के जरिए कुल 21,70,000 रुपए ले लिया। लेकिन, आरोपी ने शिकायतकर्ता की बेटी को मेडिकल कॉलेज में प्रवेश नहीं दिला पाया। इसके बाद शिकायतकर्ता ने आरोपी से उपरोक्त पैसे मांगे, लेकिन आरोपी ने पैसा वापस नहीं किया और शिकायतकर्ता के साथ धोखाधड़ी की। माणिकपुर पुलिस ने कांबले की शिकायत पर आरोपी निखिल छंगानी के ऊपर कलम 420,406 के तहत केस दर्ज कर आगे की तहकीकात में जुट गई है।

bottom of page