top of page
  • Writer's pictureBB News Live

अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस की पूर्व संध्या बोले देवेंद्र फडणवीस



मुम्बई। अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस की पूर्व संध्या पर पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेन्द्र फडणवीस ने महा विकास आघाड़ी सरकार पर जमकर हमला बोला। श्री फडणवीस ने कहा कि इस सरकार ने दारु बेचने वालों और विदेशी शराब पीने वाले को कोरोना काल में राहत दी। लेकिन प्रदेश के श्रमिकों (मजदूरों) को एक पैसे का मदद नहीं किया। इतना ही जब कोरोना काल में पान की दुकान, ठेला-खोमचा और चाय की दुकानें बंद थी, तब भी महा विकास आघाडी सरकार का दिल गरीब और मजदूर के लिए नहीं पसीजा बल्कि सरकार ने शराब की दुकान का लाइसेंस फी (शुल्क) में 50 फीसदी की छूट दी।


मुंबई के चांदिवली विधानसभा के असल्फा गांव में अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस की पूर्व संध्या पर भाजपा उत्तर मध्य मुंबई के जिला उपाध्यक्ष शुभ्रांशु दीक्षित ने श्रमिक भाईयों का सम्मान करने हेतु श्री छत्रपती शिवाजी महाराज मैदान, पंचरत्न बिल्ड़िंग के पास मिलिंद नगर असल्फ़ा विलेज घाटकोपर पश्चिम में विशाल और भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया था। इस कार्यक्रम में विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेन्द्र फडणवीस ने श्रमिकों का सम्मान किया। इस मौके पर उन्होंने महा विकास आघाड़ी सरकार को आड़े हाथ लिया।


श्री फडणवीस ने कहा, “कोरोना काल में सारे दुकान बंद थे तो बार बंद थे, इसलिए दारु बेचने वाले को बहुत ही तकलीफ हुई, इसके कारण बहुत ही उनका नुकसान हुआ। इसलिए उनका लाइसेंस फी आधा कर दिया। कोरोना काल में उद्धव ठाकरे सरकार ने दारु बेचने वाले और बार मलिकों के लाइसेंस फी को 50 फीसदी कम करने काम किया। लेकिन एक मजदूर को एक पैसा भी इस सरकार ने नहीं दिया।”


उन्होंने कहा कि ठाकरे सरकार ने गरीबों और मजदूरों को एक पैसे की भी रियायत नहीं दी है, जबकि मुंबई के बिल्डरों को करोड़ों रुपए की छूट दी है। क्योंकि मजूदरों से इस सरकार को ‘माल’ नहीं मिलता है। जबकि बिल्डरों से ‘माल’ मिलता है। ‘माल है तो ताल है, वरना तु कंगाल है ऐसा मानने वाली यह सरकार है’।


श्री फडणवीस ने कहा कि इस श्रमिकों के सम्मान कार्यक्रम के माध्यम से हम सरकार को चेतवानी देना चाहते हैं कि अगर आप गरीबों के खिलाफ है तो कोई चिंता करने की बात नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा गरीबों के सम्मान में मैदान में उतरी है। जब तक गरीबों को उनका हक नहीं मिलता, उनके साथ न्याय नहीं होता और मजदूरों तक केंद्र की सभी योजनाएं नहीं पहुंचती है, तब तक भाजपा का एक भी कार्यकर्ता अपने घर पर शांत नहीं बैठेगा।


उन्होंने कहा, “इस कार्यक्रम के माध्यम से हम लोग मजदूरों तक उनका हक पहुंचाना चाहते हैं।”

श्री फडणवीस ने शुभ्रांशु दीक्षित को केंद्र सरकार की मजूदरों और छोटे—छोटे काम करने वाले श्रमिकों के लिए बनाई गई 22 योजनाओं को अपने क्षेत्र में लागू करें। भाजपा उत्तर मध्य मुंबई के जिला उपाध्यक्ष शुभ्रांशु दीक्षित ने कहा कि वे केंद्र सरकार द्वारा मजदूरों के लिए बनाई गई सभी योजनाओं को अपने क्षेत्र में लागू करेंगे।

bottom of page