top of page
  • Writer's pictureBB News Live

गोपाल शेट्टी ने किया मंडपेश्वर लेणी का अधीक्षक पुरातत्वशास्त्रज्ञ विभाग के अधिकारियों के साथ दौरा

इस दौरान कुछ अहम फैसले लिए गए



मुम्बई। 17 मार्च 2022 को लोकसभा में सांसद गोपाल शेट्टी ने मुंबई की गुफाओं का मुद्दा उठाया था। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में तत्कालीन मंत्री श्री अनंत कुमार ने वर्ष 2000 में इस मंडपेश्वर गुफा का दौरा किया था। गोपाल शेट्टी उस समय नगरसेवक थे, फिर विधायक थे और आज एक सांसद के रूप में इस प्राचीन भारतीय संस्कृति की महिमा के रूप में मंडपेश्वर गुफाओं को संरक्षित करने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं।

आज के दौरे के दौरान पुरातत्व विभाग के अधीक्षक डॉ. राजेंद्र यादव ने श्री गोपाल शेट्टी को पुरातत्व विभाग द्वारा गुफा के संरक्षण, विकास और रख-रखाव की जानकारी दी. इस अवसर पर सांसद गोपाल शेट्टी ने पूरे हिंदू समुदाय से आहवान किया कि इस आठवीं शताब्दी की गुफाओं और प्राचीन शिव मंदिर का जीर्णोद्धार और सौंदर्यीकरण कराने मे एक साथ आएं। गोपाल शेट्टी ने कहा कि इस प्राचीन शिव मंदिर की गुफा में पहले शिव की एक प्रतिमा भी हुआ करती थी लेकिन अनिष्ठ तत्वों के कारण आज नदारद हो गई है। उन्होंने शिव की प्रतिमा चांदी की स्थापित किए जाने की बात कही। स्थानीय विधायक मनीषताई चौधरी ने विधानसभा में मंडपेश्वर गुफा को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के मुद्दे पर पुरातत्व अधिकारियों से चर्चा की। परधर्मी और असामाजिक तत्वों के अतिक्रमण से यह पवित्र प्राचीन गुफा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। आने वाली पीढ़ी को हमें अपनी प्राचीन धरोहर को नए तरीके से स्थापित कर उन्हें सौंपना चाहिए। जिसके लिए मेरा प्रयास शुरू है।


श्री शेट्टी ने कहा कि जलाशयों को पुनर्जीवित करने के लिए प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा कन्हेरी गुफाओं में प्राकृतिक झीलों का पुनर्निर्माण और संरक्षण पर जोर दिया जाएगा। इस अवसर पर

सांसद गोपाल शेट्टी, अधीक्षक पुरातत्वविद् डॉ राजेंद्र यादव, विधायक मनीषताई चौधरी, भाजपा नेता डॉ योगेश दुबे, नगरसेवक हरीश छेड़ा, जगदीश ओझा, जितेंद्र पटेल, मीडिया प्रमुख नीला सोनी राठौड़, भाजपा अध्यक्ष अरविंद यादव सहित भाजपा के कई पदाधिकारी और पुरातत्व विभाग के अधिकारी शामिल थे।

Comentários


bottom of page