top of page
  • Writer's pictureBB News Live

ईस्ट रीजन के अधीन बढ़ते अपराध के कदम से पुलिस हैरान

सप्ताह में तीन हत्या एक बलात्कार एक पुलिस अधिकारी पर हुआ मामला



मुंबई। पूर्व प्रादेशिक विभाग के अधीन बढ़ते अपराध से पुलिस परेशान हैरान है।एक सप्ताह के भीतर तीन हत्या,एक बलात्कार की घटना,एक पुलिस अधिकारी एसीबी के जाल में,वही दूसरे एक पुलिस अधिकारी के खिलाफ विभिन्न धाराओ के तहत दर्ज हुए मामले पुलिस के लिए सिर दर्द बन गए हैं।

गौरतलब है की ईस्ट रीजन के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त संजय दराडे,पुलिस उपायुक्त के के उपाध्याय व प्रशांत कदम की देखरेख में सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था।अब क्या मालुम क्या हो गया है की इस रीजन में पुनः एक बार अपराध अपना पैर पसारने लगा है।बताया जाता है की सबसे पहले देवनार पुलिस में कार्यरत एक पुलिस निरिक्षक भ्र्ष्टाचार निरोधक ब्यूरो के जाल में फंसा जिसमे पुरे पुलिस विभाग की किरकिरी हुई।


उसके बाद घाटकोपर पुलिस थाने उसी पुलिस थाने के एक पुलिस सब इंस्पेक्टर के खिलाफ काम में लापरवाही बरतने के चलते विभिन्न धाराओ के तहत मामला दर्ज हुआ।यह मामला शांत भी नहीं हुआ था की मुलुंड पुलिस की हद में एक दिन में दो हत्या की घटना घटी।जिसमे पुलिस ने तत्परता के साथ दोनों मामलो के आरोपियों को गिरफ्तार किया।उसके बाद तिलक नगर की हद में मदद का झांसा देकर एक 26 वर्षीय महिला की अस्मत लुतिगै।इस मामले में भी तिलक नगर पुलिस ने आरोपी को फ़ौरन गिरफ्तार किया।उसके बाद देवनार पुलिस की हद में एक युवती की उसके ही प्रेमी व उसके साथियो ने चाक़ू मार कर हत्या कर दी है।

पुलिस सूत्र बताते हैं की इसी तरह पंतनगर पुलिस के लापरवाही के चलते यहां के अलग अलग छेत्रो में अपराध पनप रहे हैं।यहां के सीनियर पर लोग जहां अंगुली उठा रहे हैं वही उनकी अडरली को सभी मामलो का जिम्मेदार मान रहे हैं।जिसकी पूरी पुलिस स्टेशन में दिन रात चर्चा होती रहती है।एक अधिकारी ने अपना नाम ना छापने की शर्त पर हमारा महानगर संवाददाता से बात चीत में बताया की यहां के वरिष्ठ पुलिस निरिक्षक रविदत्त सांवत पर उनके भाई अतिरिक्त पुलिस आयुक्त दिलीप सावंत का हाथ होने के चलते उनके हौसले बुलंद हैं।सभ्य व दक्ष लोगो का कहना है की इस पुलिस स्टेशन में भी सब कुछ सही नहीं चल रहा है।जिसकी लोग चर्चा कर रहे हैं।

बताया जाता है की अतिरिक्त पुलिस आयुक्त संजय दराडे अपने अधीन के पुलिस अधिकारियो के कार्य भार से काफी नाखुस है।उन्होंने कल बताया की एक करता है दुसरा भरता है।उपरोक्त मामलो को लेकर जल्द ही कोई बड़ा निर्णय लिया जाएगा।

Comments


bottom of page