top of page
  • Writer's pictureMeditation Music

12 साल के छोटे से बच्चे की बहादुरी



Bravery of a 12 year old child - leopard was locked in the room
Bravery of a 12 year old child - leopard was locked in the room

तेंदुआ को कमरे में बंद किया

मालेगांव। महाराष्ट्र के मालेगांव से एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जो काफी चौंकाने वाला है. दरअसल, यह वीडियो में एक छोटे बच्चे और तेंदुए का है. मालेगांव के नामपुर रोड स्थित पार्टी लॉन के ऑफिस के कमरे में 10 साल का एक बच्चा बैठा मोबाइल पर गेम खेल रहा था. तभी अचानक एक तेंदुआ घुस आया. उस वक्त बच्चे ने बिना समय गंवाए निर्णय लिया और सूझबूझ व हिम्मत का परिचय देते हुए तेंदुआ के आगे बढ़ते ही पीछे से दरवाजा बंद कर बाहर निकल गया.

बच्चे की पहचान मोहित विजय अहिरे के रूप में की गई है. सीसीटीवी फुटेज में साफ देखा जा सकता है कि मोहित कमरे में सोफे पर बैठकर मोबाइल पर गेम खेलने में तल्लीन है. उसी वक्त अंदर तेंदुआ घुस जाता है. गनीमत यह रही कि तेंदुआ बिना मोहित की तरफ देखे और निशाना बनाए आगे बढ़ जाता है. ठीक उसी समय बच्चा तेंदुए को देखकर भी बिना चीखे-चिल्लाए हिम्मत और सूझबूझ का परिचय देते हुए कमरे से निकलकर दरवाजा बंद कर देता है और बाहर चला जाता है.

बच्चा मोहित विजय अहिरे ने बताया कि मैं ऑफिस में बैठा था. दरवाजा अंदर की तरफ खुला था. तभी तेंदुआ आ गया और सीधा आगे चला गया. जोर-जोर से ऊसकी आवाज आ रही थी. मैने उसे देखा, अपना फोन लिया और दरवाजा बंद कर भाग गया. घर आकर पापा को बोला,तब उन्होंने मालिक को फोन किया और यहां आकर शटर बंद किया. तेंदुआ को देखकर थोड़ा तो डर लगा ही था. बता दें कि यह घटना मालेगांव शहर के जाजुवाड़ी इलाके के साई सेलिब्रेशन लॉन की है.

Comentários


bottom of page