top of page
  • Writer's pictureBB News Live

स्वनाथ फाउंडेशन ने आइनॉक्स सिनेमा में 70 अनाथ बच्चों को दिखाई प्रेरणादायक फ़िल्म



मुंबई। स्वनाथ फाउंडेशन ने गत दिनों मुम्बई के आइनॉक्स थिएटर में दिग्दर्शक डॉ. सलील कुलकर्णी की मराठी फिल्म ‘एकदा काय झालं…’ की स्पेशल स्क्रीनिंग का आयोजन किया। जहां 70 से अधिक अनाथ बच्चों ने पहली बार इस तरह सिनेमाघर में एक प्यारी सी फ़िल्म का आनंद उठाया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में महाराष्ट्र में सांस्कृतिक मंत्री मा. सुधीर मुनगंटीवार ने भी अनाथ बच्चों के साथ यह फ़िल्म देखी और उन सभी का हौसला बढ़ाया।

स्वनाथ फाउंडेशन की श्रेया भारतीय , सारिका महोत्रा और गगन महोत्रा ने यहां मंत्री जी का स्वागत किया और मा. सुधीर मुनगंटीवार ने इस फाउंडेशन के कार्यों की सराहना की।


सांस्कृतिक मंत्री मा. सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि कहावत थी कि मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है, आज 21वीं सदी में मनुष्य एक सेल्फिश प्राणी बन गया है। पहले संयुक्त परिवार रहता था, लोग हम साथ साथ हैं कहते थे आज "हम आपके हैं कौन" कहने लगे हैं। हमारे देश मे कभी भी कोई डिप्रेशन की गोली नहीं खरीदता था उसकी वजह यह थी कि मां की गोद मे हमें दुनिया भर की खुशी और सुकून मिलता था। हमारी संस्कृति में कहानी सुनाने कहने की परंपरा रही है।


हमारी नानी दादी मौसी कहानी सुनाती थीं। बचपन में हम जो सांस्कृतिक मूल्य सीखते समझते हैं वही जीवन भर साथ रहते हैं। दिग्दर्शक डॉ सलिल कुलकर्णी ने जो सिनेमा बनाया है वह इसी मूल्यों के आधार पर है। श्रेया भारतीय स्वनाथ फाउंडेशन के अंतर्गत एक मिशन के रूप में काम कर रही हैं। उनके काम को सिद्धिविनायक भगवान भर भर के आशीर्वाद, शक्ति, ऊर्जा दे, इसलिए मैं इस कार्यक्रम में उपस्थित हुआ हूँ। जीवन में कुछ ऐसे काम होते हैं, जिनका सुख, फल इस जीवन में मिलता है और कुछ काम ऐसे होते हैं जिसका फल इस जीवन में तो मिलता ही है अगले जन्म में भी मिलता है। श्रेया भारतीय ने जो काम शुरू किया है ईश्वरीय कार्य है। जो मां बाप का प्रेम देते हैं, भगवान उन्हें अपना प्रेम और आशीर्वाद निश्चित रूप से देता है।


उन्होंने अनाथ बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि तुम सब आगे बढ़ो, हम तुम्हारे साथ हैं। श्रेया भारतीय आप सबके साथ हैं, जहां मेरी जरूरत पड़ेगी मैं पूरा सपोर्ट करूंगा।

留言


bottom of page