top of page
  • Writer's pictureBB News Live

मुलुंड में एक दिन में दो हत्या की घटना से फैली सनसनी

एलर्ट पुलिस ने 24 घन्टे के भीतर पकड़े सभी आरोपी



मुंबई। मुंबई के पूर्वी उपनगर के मुलुंड इलाके में पिछले 24 घंटों में हत्या के दो मामले सामने आए हैं।बुधवार की सुबह तानसा पाइपलाइन के पास चोरी करते पकड़े जाने के बाद 28 वर्षीय हिस्ट्रीशीटर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई,वहीं 29 वर्षीय एक युवक की शराब के नशे में मौत हो गई,जो उसके जन्मदिन के जश्न के दौरान तड़के भड़क गया था।

मुलुंड पुलिस के मुताबिक बुधवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे तानसा पाइपलाइन के सोनापुर खंड के पास पहली हत्या की सूचना मिली।पुलिस ने कहा कि पाइप लाइन की मरम्मत और रख रखाव पर काम कर रहे मजदूर वर्तमान में साइट के पास ही अस्थायी झोपड़ियों में रह रहे हैं और उनमें से एक व्यक्ति अपनी झोपड़ी के अंदर एक व्यक्ति को ढूंढ़ने के लिए उठा जो उसका सेल फोन चोरी करने की कोशिश कर रहा था।उसने अलार्म बजाया और उस व्यक्ति को पकड़ लिया।जिसकी पहचान बाद में मोहम्मद रफीक (28) के रूप में हुई।उसके बाद वहां अन्य मजदूर भी जाग गए।रफीक की तलाशी ली गई और पाया गया कि वह पहले से ही दो सेल फोन चुरा चुका है।जोकि रफीक के पास से मिले थे।बताया जाता है की इतना मालुम पड़ते ही अन्य मजदूरों ने बांस की डंडों से रफीक पर हमला करना शुरू कर दिया,जबकि उनमें से एक ने पुलिस नियंत्रण कक्ष को फोन करके बताया कि उन्होंने एक चोर को रंगेहाथ पकड़ा है।कंटोल ने इसकी सूचना मुलुंड पुलिस स्टेशन को दी।और उसके बाद पुलिस की एक टीम को मौके पर भेजा गया।

मुलुंड पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कांतिलाल कोथिंबीरे ने कहा है की हमने रफीक को एमटी अग्रवाल अस्पताल पहुंचाया और बाद में उसे सायन अस्पताल ले जाया गया,जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।पुलिस ने बाद में उसके साथ मारपीट करने वाले चार मजदूरों को गिरफ्तार किया,जिनकी पहचान अनिल शाह,संतोष साहनी,फूलो साहनी और कपिल शर्मा के रूप में हुई है।ये सभी मजदूर थे जो अनुबंध के आधार पर परियोजना के काम पर काम कर रहे थे।पुलिस ने कहा कि रफीक हिस्ट्रीशीटर अपराधी है और उसके खिलाफ चोरी के पहले से दो मामले दर्ज हैं।इसी बीच दूसरी घटना मुलुंड के गौशाला रोड पर हुई, जहां नीलेश सालवी (28) अपने दो दोस्तों के साथ अपना जन्मदिन मना रहे था।तीनों उस इलाके के एक खुले मैदान में शराब का सेवन कर रहे थे,जहां वे सभी रहते हैं और उसी दौरान उनमे पुराने किसी बात को लेकर बहस बाजी हो गई।

सूत्रो का कहना है की उस बहस बाजी के बाद उनमे हुई मारपीट के दौरान जावेद खान और भावेश दोर्डे ने सालवी को पीटा और चाकू मार दिया।जिसे मुलुंड के अग्रवाल अस्पताल ले जाया गया,जहां उपस्थित डाक्टरों ने उसे भर्ती करने के पहले मृत घोषित कर दिया।पुलिस ने घटना के बाद जावेद खान और भावेश दोर्डे को उनके रहते घर से हिरासत में लिया है।वरिष्ठ पुलिस निरिक्षक श्री कोथिंबीरे ने कहा है की दोनों मामलों के आरोपियों के खिलाफ हत्या के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है।

Comments


bottom of page