top of page
  • Writer's pictureMeditation Music

मीरा-भाईंदर महानगरपालिका आयुक्त संजय काटकर का परीक्षा लेकर फेल पास करने का तुगलकी फरर्मान


Mira-Bhayander Municipal Corporation Commissioner Sanjay Katkar's Tughlaqi decree to pass the exam and fail
Mira-Bhayander Municipal Corporation

मीरा भाईंदर:  मीरा भाईंदर महानगरपालिका मनपा आयुक्त संजय काटकर के आते ही मीरा भाईंदर महानगरपालिका मे कार्यरत 163 लिपिक व वरिष्ठ लिपिक का संगणक लेखन परीक्षा लेने की तुगलगी फरर्मान पारित किया है आपको बता दे की मीरा-भाईंदर महानगरपालिका मे काम करने वाले अधिक तर लिपिक ग्रामपंचायत व नगरपालिका के समय पर नोकरीया मिली थी कुछ लिपिक जो एक दो वर्षो मे सेवानिवृत्त होने वाले है इन सभी का संगणक लेखन परीक्षा 3 फेब्रुवारी 2024 को होने वाली है परंतु मीरा भाईंदर महानगरपालिका आयुक्त ने किसी भी लिपिक को संगणक चलाने का प्रशिक्षण मांग करने के बावजूद नही दिया ये सभी लिपिक क्लार्क ग्रामपंचायत व नगरपालिका महानगरपालिका होने तक ये सभी लिपिक अभी तक इन लोगो को मीरा-भाईंदर महानगरपालिका प्रशासन बाहर के टॅक्स वसुली रजिस्टर पुस्तक कागज पत्र के काम दिये जा रहे थे इन लिपिकोने नोकरी प्राप्त करने के लिए टंकलेखन व टायपिंग करने का प्रशिक्षण लिया हुआ था परंतु इस प्रशिक्षण को करीब हर एक लिपिक का 15 से 20 वर्ष हो चुके है अचानक दो महिने मे इनकी परीक्षा लेने का आदेश पारित किया गया है इन्हे मीरा भाईंदर महानगरपालिका द्वारा संगणक न देने के कारण वर्षे से अभ्यास न होने के कारण टायपिंग करने की इनकी गती मंद हो चुकी है और बहुत सी चीजे भूल चुके है तथा क्लार्क लिपिक आज के समय मे मनपा ने कर वसुली का व चुनाव कामे व्यस्त रखा हुआ है जिसके कारण इन्हे प्रशिक्षण लेने का वक्त नही मिल रहा है भारतीय कामगार सेना मीरा-भाईंदर महानगरपालिका युनिटने आयुक्त को पत्र देकर यह मांगी थी की लिपिक पदोपर कार्यरत कर्मचारी का टंकलेखन परीक्षा लेने के पहले उन्हे प्रशिक्षण दिया जाय तथा प्रत्येक लिपिक को उनकी टेबल पर कंप्यूटर सुविधा देने के बाद उनका टंकलेखन परीक्षा ली जाये या उन्हे प्रशिक्षण लेने हेतू कम से कम छे महिने का समय दिया जाय ऐसी मांग की गई थी परंतु मांगो ठुकराते हुए मीरा-भाईंदर महानगरपालिका आयुक्त ने तुग्लाकी फर्मान सुनाते हुए कर्मचारीयो को प्रशिक्षण लेने का वक्त देने से व मनपा द्वारा प्रशिक्षण करवाने तथा लिपिको के पास कम्प्युटर उपलब्ध ना होने के बावजूद भी परीक्षा लेने का आपणा तुगलकी फर्मान मे यह कहा की 3 फेब्रुवारी 2024 को परीक्षा ले जायेगी व परीक्षा लेने के बाद जो रिझल्ट लगेगा उसके हिसाब से लिपिक कर्मचारियों के भविष्य का फैसला लिया जायेगा ऐसा अन्याय पूर्ण कार्य मनपा आयुक्त करेंगे ऐसी कर्मचारी को उम्मीद नही थी

Comments


bottom of page