top of page

फर्जी पुलिस का पर्दाफाश... बहन को परीक्षा में कराने आया था नकल



Fake police exposed... came to make sister cheat in exam
Fake police exposed... came to make sister cheat in exam

मुंबई: 12वीं की परीक्षा में गड़बड़ी रोकने के लिए शिक्षा विभाग ने कई उपाय लागू किये हैं. हालांकि, 12वीं के पहले पेपर के दौरान ही

कॉपियां उपलब्ध कराने का चौंकाने वाला मामला सामने आया है. परीक्षा केंद्र पर अपनी बहन को कॉपी देने के लिए युवक ने खुद को

पुलिसकर्मी बताया. यह घटना कल अकोला जिले के पातुर शहर में शाहबाबू उर्दू हाई स्कूल में परीक्षा के दौरान हुई.

युवक पुलिस की वर्दी पहनकर रुबाबा को कॉपी देने एग्जाम सेंटर में आया था, लेकिन सैल्यूट करते वक्त उसकी बिंग टूट गई और

घटना का खुलासा हो गया. इस फर्जी पुलिस वाले का नाम अनुपम मदन खंडारे है. बुधवार (21 फरवरी) को खंडारे फर्जी खाकी वर्दी

पहनकर पातूर शहर में स्थित शाहबाबू ऊर्दू उच्च माध्यमिक विद्यालय में गया था. उसी दौरान परीक्षा केंद्र में सुरक्षा व्यवस्था का

जायजा लेने के लिए एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अपनी टीम के साथ पहुंचे. खंडारे ने अधिकारी को सलाम किया, लेकिन उसके

अप्रशिक्षित हाव-भाव से सभी को संदेह हो गया.

मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी फौरन समझ गए कि खंडारे ने फर्जी वर्दी पहनी है क्योंकि उसकी सिलाई भी ठीक से नहीं की गई थी.

अधिकारी ने कहा कि खंडारे अपनी बहन को परीक्षा में नकल कराने के लिए आया था और उसे धोखाधड़ी करने और एक सरकारी

कर्मचारी बन कर झांसा देने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया. महाराष्ट्र एचएससी परीक्षा 21 फरवरी से शुरू हुई है और 19

मार्च तक चलेगी.

दरअसल, युवक अपनी बहन को कॉपी देने के लिए परीक्षा केंद्र के आसपास घूमने लगा. उस समय सुरक्षा के लिए पातुर पुलिस स्टेशन के पुलिस इंस्पेक्टर किशोर शेलके अपनी टीम के साथ इस परीक्षा केंद्र पर पहुंचे. इस समय अनुपम मदन खंडारे भी वहां थे. वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को देखकर तोताया ने उन्हें सलाम किया. लेकिन उसका सैल्यूट देखकर पुलिस को शक हो गया. साथ ही उसने जो वर्दी पहनी हुई थी, उस पर लगी नेम प्लेट भी गलत थी, इसलिए ये सब खुलासा हुआ.

Comments


bottom of page