top of page
  • Writer's pictureMeditation Music

पालघर में फिर मॉबलिंचिंग



Mob lynching again in Palghar - 10 people beat a young man to death
Mob lynching again in Palghar - 10 people beat a young man to death

10 लोगों ने पीट-पीटकर युवक को मार डाला

पालघर : पालघर जिले में एक बार फिर मॉबलिंचिंग का मामला सामने आया है। यहां चोर होने के संदेह में 23 वर्षीय एक व्यक्ति की बुधवार सुबह पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। पेल्हार पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि करीब 10 लोगों के एक समूह ने सुबह करीब 6.30 बजे नालासोपारा के वेलाई पाड़ा इलाके में विजय उर्फ ​​अभिषेक जोगिंदर सोनी को पकड़ लिया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि लोगों को संदेह था कि विजय चोरी करने के इरादे से वहां घूम रहा है, इसलिए लोगों ने उसे लाठियों से बेरहमी से पीटा, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया और बाद में उसकी मौके पर ही मौत हो गयी।

राहगीरों ने बाद में पुलिस को शव के बारे में सूचना दी। अधिकारी ने बताया कि अभी तक इस घटना के सिलसिले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है और जांच जारी है। पालघर में इससे पहले भी मॉबलिंचिंग का मामला सामने आया था। यहां साधुओं की भी पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी।

2020 में हुई थी साधुओं की हत्या

16 अप्रैल, 2020 को मुंबई से 140 किमी उत्तर पालघर जिले के गढ़चिंचले में भीड़ ने दो साधुओं और उनके कार चालक की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। दोनों साधु एक व्यक्ति के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए कार से गुजरात जा रहे थे। भीड़ को संदेह था कि वे चोर हैं। इस मामले में कुल 201 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया था। मृतकों की पहचान 70 वर्षीय कल्पवृक्षगिरी और 35 वर्षीय सुशील गिरी और ड्राइवर नीलेश तेलगड़े के रूप में हुई थी। इस घटना में पुलिस के आने के बावजूद भीड़ ने पीट-पीटकर साधुओं की हत्या कर दी थी। इस मामले में जांच समिति ने कहा था कि पुलिस चाहती तो इसे रोक सकती थी, लेकिन पुलिसकर्मियों ने भी भीड़ का साथ देने का फैसला किया था।

Comments


bottom of page