top of page
  • Writer's pictureBB News Live

तैयारियों में लापरवाही अधिकरियों को पड़ा भारी, पुलिस में मामला दर्ज



Negligence in preparations cost the officers dearly, case registered in police
Negligence in preparations

चंद्रपुर: लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही चुनाव आयोग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. आयोग के निर्देशानुसार जिला प्रशासन द्वारा जिले में फोटोयुक्त मतदाता सूची का विशेष पुनरीक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा है. हालांकि, इस काम में 26 केंद्रीय स्तर के अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था. हालांकि, काम में सुधार नहीं होने के कारण आखिरकार घुग्घुस पुलिस स्टेशन में 26 केंद्रीय स्तर के अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

डिप्टी कलेक्टर मुरुगनाथम एम के मार्गदर्शन में चंद्रपुर विधानसभा क्षेत्र में अर्हता तिथि 1 जनवरी 2024 के आधार पर फोटोयुक्त मतदाता सूची का विशेष पुनरीक्षण कार्यक्रम क्रियान्वित किया जा रहा है. इस कार्य के लिए तहसीलदार विजय पवार ने घुग्घुस के तलाथी मनोज कांबले को चुना है.

कांबले ने क्षेत्र के आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा कार्यकर्ताओं और अन्य कर्मचारियों को मतदान केंद्र स्तर का अधिकारी बनाया। इन अधिकारियों के माध्यम से मतदाता सत्यापन, स्थानांतरित, मृत, डुप्लीकेट मतदाताओं का बहिष्कार, भौगोलिक समानता अभिलेखों का सत्यापन आदि कार्य कराने के लिए मतदान केंद्र निर्धारित किये गये हैं।

हालांकि वरीय अधिकारियों के संज्ञान में यह बात लायी गयी कि मतदान केंद्र स्तर के पदाधिकारी मतदाता सूची के विशेष पुनरीक्षण कार्यक्रम में गलतियां कर रहे हैं. इसके बाद 11 दिसंबर 2023 को वरिष्ठ अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया. इसके बाद भी मतदान केंद्र स्तर के अधिकारियों ने कोई खुलासा नहीं किया और चुनाव कार्यक्रम के तहत कोई काम नहीं किया.

इसलिए, तलाथी कांबले ने उन पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए घुग्घुस पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1950 की धारा 32, भारतीय दंड संहिता, 1860 की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया है. जिला प्रशासन द्वारा सीधे थाने में शिकायत किये जाने से चुनाव कार्य कर रहे जिले के अन्य कर्मियों में भी काफी उत्साह है।

コメント


bottom of page