top of page
  • Writer's pictureMeditation Music

टाटा पावर के बिजली शुल्क वृद्धि प्रस्ताव ने मुंबईकरों की चिंता बढ़ी



Tata Power's electricity tariff hike proposal raises concerns among Mumbaikars
Tata Power's electricity tariff hike proposal raises concerns among Mumbaikars

मुंबई: टाटा पावर के बिजली शुल्क वृद्धि प्रस्ताव ने मुंबईकरों की चिंता बढ़ा दी है। कुछ दिन पहले बिजली कंपनियों की ओर से सरकार को बिजली कीमत बढ़ोतरी का प्रस्ताव भेजा गया था। इसे हाल ही में मंजूरी मिल गई है। देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई में पिछले कुछ दिनों से भीषण गर्मी पड़ रही है।आने वाले दिनों में मुंबई में बिजली की दरें बढ़ने वाली हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक बिजली दरें बढ़ने से फिलहाल बिजली दरें 24 फीसदी तक महंगी होने जा रही हैं। महाराष्ट्र विद्युत नियामक आयोग ने टाटा पावर के बिजली शुल्क वृद्धि प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। यह बढ़ोतरी साल 2024-25 के लिए लागू है और कहा जा रहा है कि बिजली बिल 1 अप्रैल 2024 से नई दरों के मुताबिक लागू होगा।

गौरतलब है कि जो उपभोक्ता 100 यूनिट से कम बिजली की खपत करते हैं, उन पर इस बढ़ोतरी का ज्यादा असर देखने को मिलेगा। क्योंकि, अब से उन्हें 1.65 रुपये प्रति यूनिट (kWh) के बजाय सीधे 4.96 रुपये प्रति यूनिट का भुगतान करना होगा। इस मूल्य वृद्धि के दौरान भी 500 यूनिट या उससे अधिक बिजली की खपत करने वालों को राहत मिलेगी। क्योंकि, इन उपभोक्ताओं के लिए बिजली दरें 8.35 रुपये से घटकर 7.94 रुपये प्रति यूनिट हो गई हैं।

टाटा ने फिलहाल 927 करोड़ रुपये का बकाया चुकाने के लिए रेट बढ़ोतरी का यह कदम उठाया गया है। दरअसल, टाटा ग्रुप ने बिजली दरों में 12 फीसदी बढ़ोतरी की मांग की थी। लेकिन, नियामक संस्था ने सीधे तौर पर 24 फीसदी की बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी, जिससे अब बिजली बिल की गणना में काफी हद तक बदलाव देखने को मिलेगा।

Comments


bottom of page