top of page
  • Writer's pictureBB News Live

एक दिन में दो नाबालिग बच्चियों को पुलिस ने खोज निकाला

पंतनगर मिसिंग स्टॉफ के अधिकारी के सराहनीय काम


रवि निषाद/मुंबई। घाटकोपर पंतनगर पुलिस की हद से लापता हुई दो नाबालिग बच्चियो को पुलिस ने खोज निकालने में सफलता पाई है।जिसमे एक युवती 15 वर्ष व दुसरी युवती 17 वर्ष की बताई जाती है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार घाटकोपर पूर्व स्थित कामराज नगर निवासी एक 15 वर्षीय युवती 10 अप्रैल को अपने परिजनों को बिना बताए घर से बाहर निकली और वापस घर ना आकर ठाणे स्टेशन पहुँच गई।जहां उसे किसी रेल यात्री ने समझाया तो वह वापस मुंबई आई लेकिन घर वापस ना आकर गोवंडी में अपने किसी रिश्तेदार के पास जाकर छिप गई थी।जिसकी शिकायत दर्ज होने के बाद यहां के मिसिंग स्टॉफ के पीएसआई सुभाष हमारे अपने मानवी व तांत्रिक जांच पड़ताल के जरिए गोवंडी शिवाजी नगर से बरामद कर लिया है।जिसका कानूनी प्रक्रिया पूरी कर उसके परिजनों को सौंप दिया है।जिसका अपराध क्रमांक 234/2024 भादवी 363 बताया जाता है।दूसरी घटना में लापता युवती 17 वर्ष की है जो पंतनगर नायडू कॉलोनी के पास की रहने वाली वह 7 अप्रैल को लापता हुई थी।जिसकी शिकायत उसके परिजनों ने 10 अप्रैल को दर्ज कराई तो यहां के मिसिंग स्टॉफ के पीएसआई हमरे ने तांत्रिक जांच की तो उन्हें पता चला की उक्त युवती अपने किसी प्रेमी के साथ मध्य प्रदेश के खंडवा पहुंच गई है।पुलिस अधिकारी श्री हमरे ने इस मामले में अपना सराहनीय काम करते हुए युवक व युवती से संपर्क कर अपने झांसे में लिया और उन्हें पुनः मुंबई आने का आग्रह किया।काफी प्रयास के बाद उक्त प्रेमी जोड़ा 11 अप्रैल को दोपहर में मुंबई वापस आ गया।जिन्हें घाटकोपर स्टेशन पहुंच कर श्री हमरे ने अपने कब्जे में ले लिया।उन्हें पुलिस स्टेशन लाने के बाद उन दोनों से जांच पड़ताल के बाद श्री हमरे ने अपनी कानूनी प्रक्रिया पूरी की है।इस मामले में पुलिस ने अपराध क्रमांक 237/2024 भादवी 363 के तहत मामला दर्ज किया है।इस मामले की अधिक जांच पीएसआई सुभाष हमरे कर रहे है।पुलिस उपायुक्त पुरुषोत्तम कराड,सहायक पुलिस निरीक्षक दीपक निकम व वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक राजेश केवले की देखरेख में श्री हमरे,तांत्रिक जांच अधिकारी रूपाली हडवले व महिला पुलिस कर्मचारी ज्योत्स्ना काटकर द्वारा किए गए इस बेहतर व सराहनीय काम की चौतरफा चर्चा हो रही है।अतिरिक्त पुलिस आयुक्त डॉ.महेश पाटिल ने श्री हमरे के इस तरह के काम की जमकर प्रशंशा की है।।

Comments


bottom of page